भारत के 5 शहरों की मेट्रो रेल की सवारी (सफर) जरूर करें – Metro Rail in Hindi | मेट्रो ट्रैन के बारे में पूरी जानकारी

Table of Contents

भारत के 5 शहरों की मेट्रो रेल की सवारी (सफर) जरूर करें – Metro Rail in Hindi | मेट्रो ट्रैन के बारे में पूरी जानकारी

हर भारतीय का एक छोटा सपना होता है भारतीय मेट्रोरेल में सफर करना! लेकिन दुःख की बात यह है की मेट्रो ट्रैन भारत के कुछ चुनिंदा शहरों में ही उपलब्ध है। आप ये भी बोल सकते है की एक राज्य में 2 या 3 से अधिक मैट्रो नही है। और भारत के बहुत सारे राज्य तो ऐसे है जहाँ पर शायद ही कभी मेट्रो रेल दौड़ पायेगी। इसके पीछे कुछ कारण, नियम व शर्ते होती है जिसके बारे में आप सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में पढेंगे। शुरुआत हम भारत की “Top 5 Metro Rail in india” से करेंगे। जिसमें आपको सफर जरूर करना चाहिए। इसके अलावा आप शुरुआत की चार मेट्रो रेल का मेरा व्यक्तिगत अनुभव पढेंगे। अंतिम शब्द यही बोलूंगा की अगर आपको घूमने-फिरने का शौक है या आप मेट्रो के बारे में महत्वपूर्ण काम की जानकारी हासिल करने के लिए इस पोस्ट को खोला है तो पूरी पोस्ट को पढ़कर ही जाये।

#1. दिल्ली मेट्रो की यात्रा (My Delhi metro journey experience in Hindi)

delhi metro in hindi, delhi metro ke bare me jaankari,

भारत का दिल्ली एक राज्य, राजधानी और एक महानगर है। ये यात्रा है सन् फरवरी, 2018 की, तब मैं एक मोटिवेशनल सेमिनार में शिरकत करने दिल्ली गया था। अब जाहिर सी बात है हर भारतीय की तरह मुझे भी मेट्रो ट्रेन में बैठना था। और ये इच्छा मेरी काफी ज्यादा बढ़ गई क्योकी इससे पहले मैंने कभी भी मेट्रो का मुँह नही देखा था। अब मेरा किस्मत देखो जिस एरिया में मुझे जाना था, वहाँ पर मैं सिर्फ मेट्रो के द्वारा ही जा सकता था। क्योकी वही ट्रैवल अगर मैं रिक्शा या बस से करता तो किराया बहुत ज्यादा हो जाता। अब मैं पूरी कहानी नही बताऊंगा बस आपको “Delhi metro” के मेरे सफर की कुछ खास यादगार बातें बता देता हूँ।
[१.] एयरपोर्ट से भी अच्छा है दिल्ली मेट्रो स्टेशन। साफ-सफाई में अव्वल है।
[२] हर समय हर स्टेशन पर सेकड़ो भारतीय सेना के फौजी खड़े रहते है आपकी सुरक्षा के लिए व आंतकवादी गतिविधियों से निपटने के लिए।
[३.] कुछ स्टेशनों का नाम बताना चाहता हूं जहाँ पर मैं घूमा- पटेल नगर, इंद्रप्रस्थ, बारहखम्भा, कनॉट प्लेस मेट्रो स्टेशन, राजीव चौक।
[४.] हर स्टेशन पर स्वचालित सीढिया लगी हुई है। जिस पर आपको सिर्फ पैर रखना है। जिससे आपको चलने की जरूरत नहीं पड़ेगी। ये अनुभव शानदार था क्योंकी इससे पहले ये दृश्य सिर्फ मैने टेलीविजन पर देखा था।

#2. हैदराबाद मेट्रो की यात्रा (Hyderabad Metro Kaisee hai?)

hyderabad metro in hindi, hyderabad metro ke bare me jaankari,

Journey Date – मार्च 2019, नौकरी के सिलसिले में हैदराबाद गया था। नौकरी तो सिर्फ एक बहाना था असल मकसद तो कुछ ओर था। असल मकसद था ऐतिहासिक शहर हैदराबाद के साथ दक्षिण भारत के रीति-रिवाजों को देखना। मेरा ऐसा मानना है हैदराबाद मैट्रो को देश के टॉप-दो में स्थान मिलना चाहिए। हैदराबाद मेट्रो स्टेशन का स्टाफ देश के अलग- अलग राज्यों से आए यात्रियों के लिए काफी मददगार है, वहाँ पर तेलगु, अंग्रेजी के साथ हिंदी कस्टमर सपोर्ट भी लगा होता है। लेकिन आपको तेलगु और अंग्रेज़ी भाषा दोनो समझ में नही आती तो आपके लिए थोड़ी दिक्कत हो सकती है। वैसे आपको सिर्फ एरिया का नाम याद रखना है भाषा कोई भी हो एरिया का नाम तो उसी रूप में बोला जायेगा जिस रूप में वो है। अब यात्रा की बात करें तो मजा आ गया बहुत सारे साउथ के बड़े-बड़े सुपरस्टार के स्टेच्यू, गुरुद्वारा, सुंदर शहर का नजारा, रात को बेगमपेट एरिया का रात्रि दृश्य सबकुछ मुझे अभी तक याद है। इसके अलावा कुछ प्रमुख हैदराबाद मेट्रो स्टेशनों के बारे में बताना चाहता हूँ जिसको मैंने विजिट किया। पहला N.G.R.I, Nagole metro station, Habsiguda तथा बेगमपेट इत्यादी।

#3. जयपुर मेट्रो की यात्रा ( Jaipur metro journey experience in Hindi)

jaipur metro train in hindi, jaipur metro ke bare me jaankari,

Journey Date – नवम्बर, 2021,
जब सन् 2010 में गया था तब जयपुर मेट्रो का काम चल रहा था परन्तु उसके बाद जाने का मौका ही नही मिला। लेकिन इस बार में स्पेशल तीन दिन का अवकाश घोषित करके दिवाली मनाने जयपुर अपनी बुआ के घर गया। जयपुर मेट्रो विभाग को दिल से धन्यवाद जिन्होंने एक मेट्रो संग्रहालय (म्यूजियम) बनाया, यह आप बड़ी चौपड़ स्टेशन पर देख सकते है। एकबात तो कहनी पड़ेगी, समय बहुत अधिक लगा, सभी जयपुरवासियों को भी बहुत इंतजार करना पड़ा लेकिन आज सभी मौज कर रहे हैं। आज जयपुर में किसी भी सिलसिले से काम करने वाले व्यक्ति तथा जयपुर घूमने आने वाले सभी पर्यटकों के लिए यह “Jaipur Metro” वरदान है। छोटी चौपड़, बड़ी चोपड़ा, रेलवे स्टेशन, सिंधी कैम्प इत्यादि स्टेशन मैंने विजिट किये हैं। कुछ ही सालो में शहर के सभी छोटे-बड़े एरिया को मेट्रो से जोड़ने का कार्य तेज गति से चल रहा है।

#4. मुम्बई मेट्रो की यात्रा (Kya Mumbai Mein Metro Hai?)

mumbai metro train in hindi, mumbai metro ke bare me jaankari,

यात्रा की दिनांक – अगस्त , 2018,
आपको जानकारी के लिए बता दूं, मुम्बई मेट्रो मुख्य रूप से ‘मुंबई लोकल ट्रेन’ नाम से प्रसिद्ध है। इसके अलावा ये सबसे शानदार मेट्रो की गिनती में भी शामिल है क्योकी इस रेलगाड़ी में सारी सीटे स्टील की बनी हुई है। आप ये भी कह सकते है की मुम्बई मेट्रो लिमिटेड विभाग ने एक बार जमकर खर्चा कर दिया है अभी उसको कुछ भी करने की जरूरत नहीं है। मुम्बई मेट्रो से एक बड़ी झील या नहर के नजारे को देखना एक बहुत ही विलक्षण क्षण होता है। एक चीज का विशेष ध्यान रखें, मुम्बई मेट्रो में हद से अधिक भीड़ रहती है चाहे आप किसी भी महीने में क्यों ना चले जायें इसका कारण ये एक आर्थिक राजधानी है। भारत के हर राज्य के लोग रोजी-रोटी, दिहाड़ी मजदूरी, बिजनेस के सिलसिले में मुंबई की तरफ रवाना होते है तो जाहिर सी बात है भीड़ तो रहेंगी। मैंने मीरा रोड, वसई, बांद्रा, जेसे अन्य कई प्रमुख मेट्रो स्टेशन देखे है।

#5. कोलकाता मेट्रो ट्रेन ( Kolkata Metro Rail in Hindi )

Kolkata metro train in hindi, Kolkata metro ke bare me jaankari,

कोलकाता मेट्रो को भारत की नम्बर एक मेट्रोरेल है। यह पूरी तरह से एयर कंडीशनर वाली भारत की पहली मेट्रो है। लेकिन विवादस्पद भी है, कहा जाता है की कोलकाता मेट्रो के एक प्लेटफार्म/स्टेशन पर सबसे अधिक बार लोगआत्महत्या (सुसाइड) करते है l लोग कहते हैं यहाँ पर कोई नेगेटिव एनर्जी है जो लोगो आत्महत्या करने के लिए प्रेरित करती है। अगर आपने कभी कोलकाता मेट्रो की सवारी की है या आप मूल रूप से वही के रहने वाले हैं तो कृपया करके अपना अनुभव नीचे ब्लॉग कॉमेंट बॉक्स में लिखे।

 

मेट्रो रेल में पहली बार सफर करते समय इन बातों का ध्यान रखें (first time metro travel tips in hindi)

first time metro travel tips in hindi, Metro me travel yatra kaise kare,अगर आप पहली बार मेट्रो रेल में सफर करने की सोच रहे हैं तो कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। वरना आप बहुत परेशान हो जायेंगे क्योकी मेट्रो का नियम, सिस्टम सबकुछ अलग होते है। इसमें नॉर्मल ट्रैन की तरह सफर नही होता है। चलिए जानते हैं;-


1. आप अपने एक ही टिकट (सिक्के) से एक शहर के सभी मेट्रो स्टेशन अंदर ही बैठे-बैठे देख सकते है।

2. मेट्रो के टिकट के रूप में आपको कोई कागज की रसीद नही मिलती है बल्की एक सिक्का मिलता है। वो सिक्का प्लास्टिक का होता है जिसको आपको संभालकर रखना होता है। अगर आपसे गलती से घूम हो जाये तो चिंता ना करे, आप दूसरा सिक्का काउंटर से खरीद सकते है।

metro ticket kaisa hota hai, Metro ka ticket kaise book kare,
Metro ticket collecting machine

3. मेट्रो में बैठने से पहले आपको ‘मेट्रो टिकट कॉइन ‘ को एक इलेक्ट्रॉनिक बड़े डिब्बे में डालना होता है जिसके बाद गेट खुलता है और फिर आप मेट्रो में प्रवेश कर सकते हैं। नीचे छवि की मदद ले।

4. प्लेटफार्म पर मेट्रो रेल आते ही तुरंत उसमें बैठ जाये। क्योंकी ये दरवाजे ऑटोमेटिक सिस्टम से जुड़े होते है कुछ ही मिनट के बाद अपने-आप बंद हो जाते हैं। यही हूबहू नियम उतरते वक्त भी ध्यान रखें।

5. मेट्रो में सुविधाएं उच्चस्तरीय ( High & Advance) लेवल की होती है लेकिन इसमें गरीब से गरीब आदमी व आम व्यक्ति भी इसमें यात्रा कर सकता है। इसका कारण है ” सबसे सस्ता टिकट रेट ” अधिकतम लंबी से लंबी दूरी का टिकट भी 30 से 40 रुपये में आराम से मिल जाता है। जबकी Lowest metro ticket की बात करे तो 15 से 20 रुपये करीब होता है।

मेट्रो रेल के लाभ [ Benefits Of Metro Train In Hindi]

  • शहर के यातायात (ट्रैफिक) की समस्या से छुटकारा मिलता है।
  • रिक्शा चालकों (ऑटो ड्राइवरो) की मनमानी वसूली पर रोक लग जाती है। क्योंकी फिर हर कोई मेट्रो से ही यात्रा करना पसंद करता है।
  • मेट्रो रेल किसी भी शहर की बस/सरकारी बस/रिक्शा/तांगा/बाइक कैब के मुकाबले सस्ता और सुलभ परिवहन का साधन है।
  • किसी भी शहर के हर एक एरिया को सस्ते में देखेने के लिए मेट्रो सबसे अच्छा परिवहन है। क्योंकी बाहर से तो आप देखते ही है इसके अलावा आप मेट्रो के अंदर से पूरे शहर का नजारा देख सकते है। और ये दृश्य सचमुच में कमाल का होता है।


 मेट्रो रेल की विशेषता

  1. मेट्रो की गिनती भारत की सर्वश्रेष्ठ रेलों में होती है। इसकी एडवांस लेवल की हाई टेक्नोलॉजी इनेबल्ड फीचर इसको इंडिया की सबसे सुंदर ट्रेनों में शामिल करती है।
  2. इसकी बाहर की डिजाइन बहुत ही आकर्षक होती है। और उतनी ही आकर्षक अंदर से दिखती है।
  3. भारत की कई शहरों की मेट्रो में वातानुकूलित (Ac) होती है। जबकी बाकी छोटे शहरों की मेट्रो में विशेष पंखे लगे होते है।
  4. सुबह हो या शाम हर समय दूधिया रोशनी की लाईट जली रहती है। इसके अलावा शारिरिक रूप से असमर्थ लोगो के लिए विशेष सीट होती है।
  5. महिलाओं के लिए मेट्रो के हर डिब्बे (कोच) में कुछ सीट आरक्षित (रिज़र्व) होती है।
  6. मेट्रो रेल की रफ्तार बहुत अधिक होती है। ये आपके कीमती समय को बचाती है।
  7. मेट्रो ट्रेन की अधिकतम स्पीड 80 किलोमीटर प्रति घंटा से 120 किमी. प्रति घंटा है।


मेरे शहर में मेट्रो रेल कब आयेगी?

यह सवाल हर उस भारतीय के दिमाग में हमेशा चलता रहता है जो किसी न किसी शहर में रहता है और उसके सिटी में अभी तक मेट्रो स्टेशन नही है। इसका मुख्य कारण यह है की किसी भी शहर या महानगर में मेट्रो रेल योजना प्रस्तावित करने के लिए कुछ नियम व शर्ते होती है। और वह शर्त यह है की आपके शहर की आबादी 20 लाख से अधिक होनी चाहिए। अब आप अपने शहर की जनसंख्या इंटरनेट पर देखे की कितनी है अगर 20 लाख आबादी का आँकड़ा पार कर दिया है तो आप अपने स्थानीय लोगो के साथ मिलकर या पूरा शहर मिलकर सरकार पर दबाव डाल सकते हैं। चलिए आपको राजस्थान के जोधपुर शहर के बारे में बताता हूँ, इस शहर की जनसंख्या लगभग 15 से 18 लाख है। इसके अलावा ये एक भारत का बहुत अधिक लोकप्रिय सिटी है। फिर भी अभी तक “जोधपुर मेट्रो रेल” नही बनी  राजस्थान में हर दिन हजारो लोग गूगल पर ” Metro rail in jodhpur” सर्च करते है। लेकिन शर्त यही है की २० लाख (2 मिलियन) की आबादी होना जरूरी है।

Metro Ke Bare Me Aapke Sawal aur Mere Jawab

प्रश्न) सबसे सुंदर मेट्रो स्टेशन कहा पर है?

उत्तर- भारत देश में मोस्ट ब्यूटीफुल मेट्रो रेल प्लेटफार्म या स्टेशन दिल्ली शहर में बना हुआ है। ये किसी एयरपोर्ट से कम नही है। अगर आप एयरपोर्ट का आनंद लेना चाहते हैं तो दिल्ली मेट्रो में जरूर यात्रा करे।

प्रश्न) मेट्रो रेल किसे कहते हैं?

उत्तर- 20 लाख घनी आबादी क्षेत्र के महानगर में चलने वाली एक विशेष प्रकार की रेल जो सिर्फ उस शहर में ही चलती है। और उस शहर के सभी प्रमुख व लोकप्रिय क्षेत्रो (एरिया) में परिवहन की सुविधा देती है। इसके अलावा दूसरी परिभाषा यह है की जमीन के नीचे सुरंग बनाकर उसके अन्दर रेल की पटरी बिछाकर जो रेलगाड़ी चलायी जाती है उसे भूमिगत रेल या मेट्रो रेल कहते हैं।

प्रश्न) क्या रात को भी मेट्रो चलती है?

उत्तर – जी बिल्कुल रात को 10 बजे तक मेट्रो चलती है। जबकी कई शहरों में 9 बजे तक ही चलती है। सुबह 4 से 5 बजे के बीच शुरू हो जाती है।

प्रश्न) मेट्रो रेल की खोज/अविष्कार किसने किया?
उत्तर- रिचर्ड ट्रेविथिक ने मेट्रो ट्रेन का आविष्कार किया था।

प्रश्न) भारत में कुल कितनी मेट्रो रेल है?
उत्तर- 50

प्रश्न) राजस्थान में कितनी मेट्रो रेल है?
उत्तर- राजस्थान राज्य में सिर्फ एक मेट्रो रेल वर्तमान में चालू है वो भी जयपुर शहर में।

प्रश्न) राजस्थान के जोधपुर शहर में मेट्रो रेल है क्या?
उत्तर- नही। Answer is No लेकिन 2025 में इसकी नींव रखी जा सकती है।

प्रश्न) उत्तराखंड में कितनी मेट्रो रेल है?
उत्तर- देहरादून मेट्रो को 2019 में मंजूरी मिल गई है और 2024 तक ऋषिकेश से देहरादून तक मेट्रो ट्रेन चलाने की बात चल रही है।

प्रश्न) उत्तरप्रदेश में कितनी मेट्रो रेल है?
उत्तर- यूपी में सबसे ज्यादा मेट्रो है। कानपुर, लखनऊ सबसे मुख्य है।

प्रश्न) महाराष्ट्र में कितनी मेट्रो रेल है?
उत्तर- तीन। जिसमें नागपुर, पुणे व मुम्बई।

प्रश्न) आंध्रप्रदेश में कितनी मेट्रो रेल है?
उत्तर- एक। हैदराबाद मेट्रो।

प्रश्न) गुजरात में कितनी मेट्रो रेल है?
चार मेट्रो सिटी है। राजकोट, अहमदाबाद, सूरत और वडोदरा।

प्रश्न) तमिलनाडु में कितनी मेट्रो रेल है?
उत्तर- एकमात्र मेट्रो सिटी, चेन्नई है।

Top 10 Metro in the World
स्वीडन, न्यूयॉर्क, शंगाई, मॉस्को, टोक्यो, Seoul साउथ कोरिया, सिंगापुर, पेरिस, ग्रीस और दिल्ली।

Top 10 Metro train in India
दिल्ली, जयपुर, हैदराबाद, चेन्नई, कानपुर, नागपुर, लखनऊ, अहमदाबाद, भोपाल, नोएडा।

मेट्रो रेल के उद्देश्य

उत्तर- मेट्रो रेल का मुख्य उद्देश्य है भारत के बड़े महानगरों की आबादी को यातायात की समस्या से छुटकारा दिलाना तथा एक बेहतर परिवहन की सुविधा उपलब्ध करवाना

मेट्रो रेल इतिहास ( Metro rail history in hindi?)

भारत में पहली दिल्ली मेट्रो व दूसरी कोलकाता मेट्रो थी। शुरुआत में सिर्फ एक फेज यानी 3 से 6 स्टेशन तक ही मेट्रो चलती थी। लेकिन वर्तमान में एक बड़े महानगर के सभी प्रमुख एरिया को जोड़ती है। आप यकीन नहीं मांगेंगे, भारत में ऐसे मेट्रो प्रोजेक्ट भी चल रहे हैं जिसमें सीधे एक शहर से दूसरे शहर के बीच आप मेट्रो से सफर कर सकते है। वो भी बहुत ही सुविधाजनक और तेज गति के साथ। वैसे वर्तमान में city to city metro चल रही है जिसका सबसे बेहतर उदाहरण दिल्ली से नोएडा तक चलने वाली मेट्रो रेल है।

मेट्रो रेल कैसे चलती है तथा कैसी होती है?

मेट्रो रेल एक विशेष प्रकार के डिजिटल उपकरण के साथ जुड़ी होती है। ये पूरी तरह से Electrified होती है। इसको चलाने के लिए भी एक ड्राइवर होता है। मेट्रो में एक दिन में दो ड्राइवर होते हैं। एक मॉर्निंग में ड्यूटी करता है और एक संध्या से रात्रि तक। अब करते हैं बात मेट्रो कैसी होती है? या फिर कैसी दिखती है? मेट्रो हर शहर में अलग-अलग रंगों में होती है, पहले कोच यानी लोको पायलट पर City name + Metro Corporation Limited लिखा होता है इसका Logo भी लगा होता है। मेट्रो पर किसी भी प्रकार का विज्ञापन नही लगाया जाता है।

 मेट्रो स्टेशन कैसा दिखता है?

बहुत शानदार अन्य रेलवे स्टेशन के मुकाबले मेट्रो स्टेशन (प्लेटफार्म) काफी साफ-सुथरे और सुंदर होते हैं। वहाँ पर किसी प्रकार का भोपू या रेडियो नही बजता। सिर्फ आपको सचेत होकर खड़ा होना होता है। मेट्रो स्टेशन पर विज्ञापनों की बाढ़ लगी होती है। आप भी अपने बिजनेस/ स्टार्टअप का प्रचार मेट्रो स्टेशन पर कर सकते है। इसका पूरा राजस्व मेट्रो विभाग लेता है।

मेट्रो ट्रेन दिखाइए [Upcoming Metro Rail Projects in india Hindi Me]


upcoming metro rail Projects india in hindi, Bharat me prastavit metro rail,
अभी मैं आपको भारत के प्रस्तावित मेट्रो रेल प्रोजेक्ट के बारे में बताऊंगा। हो सकता है इसके अंदर आपके शहर का नाम भी हो। यह बात तो सत्य है की जितनी ज्यादा भारत में मेट्रोरेल का निर्माण होंगा भारत का परिवहन भी अच्छा होंगा, इससे देश के लोग भी ज्यादा से ज्यादा घूमने जायेंगे। मेट्रो प्रोजेक्ट से रोजगार भी बढ़ेगा।

Kanpur Metro Rail Project
Agra Metro Rail Project
Banglore Metro Rail Project
 Ahmedabad Metro Rail Project
 Bhopal Metro Rail Project
Gurgaon Metro Rail Project
Indore Metro Rail Project
Lucknow Metro Rail Project
Meerut Metro Rail Project
Navi Mumbai, Metro Rail Project
Patna Metro Rail Project
Pune Metro Rail Project
Nasik Metro Rail Project
Khazikhode Metro Rail Project
Trivendram Metro Rail Project
Gorakhpur Metro Rail Project
Surat Metro Rail Project

आज आपने भारत की दस प्रसिद्ध मेट्रो रेल व मेरी मेट्रो ट्रेन यात्रा के बारे में पढ़ा। इसके अलावा अगले आने वाले महत्वपूर्ण मेट्रो प्रोजेक्ट के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। इस पोस्ट को हर रेलप्रेमी को शेयर करे अपने विचार/सवाल/सुझाव नींचे ब्लॉग कॉमेंट बॉक्स में लिखे।

इन्हें भी पढ़ें [ Related Articles ]

बिना टिकट rail यात्रा कैसे करें

राजस्थान के पुष्कर शहर की सम्पूर्ण यात्रा

 भारत के बारे में 150 रोचक तथ्य

गाँव के बारे में जानकारी व गांव के लोग कैसे रहते हैं? 

देश विदेश घूमने के फायदे

हरिद्वार शहर के पर्यटन स्थल 

 भारत के सभी राज्य और केंद्रशासित प्रदेश

 राजस्थान के बारे में 5 रोचक तथ्य 

 उत्तराखंड के बारे में 5 रोचक तथ्य

पतजंलि औषधीय उद्यान हरिद्वार | Patanjali Tourist Places in Hindi 

 

Leave a Comment