हीम्स हॉस्पिटल चंडीगढ़ के बारे में सम्पूर्ण जानकारी | Hiims hospital chandigarh in Hindi

Hiims Hospital Chandigarh In Hindi

हीम्स हॉस्पिटल चंडीगढ़ जो राजीव दीक्षित  मेमोरियल अस्पताल के नाम से भी जाना जाता है। Hiims Ka Hindi Me Meaning और Full form हॉस्पिटल एंड इंस्टिट्यूट ऑफ इंटीग्रेटेड मेडिकल साइंस है। मतलब इस अस्पताल में आयुर्वेद, पंचकर्म, योग, प्राकृतिक चिकित्सा (नेचुरोपैथी) तथा सभी चिकित्सा पद्धतियों के मिश्रण से रोगी का इलाज किया जाता है। Hiims Hospital Chandigarh डेरा बसी का एकमात्र उद्देश्य रोगी को ठीक करना है और मरीज को खुद का डॉक्टर बनाना है। हिम्स अस्पताल मुख्य रूप से किडनी ट्रीटमेंट के लिए जाना जाता है लेकिन किडनी के अलावा कैंसर, लीवर रोग, हार्ट डिजीज, शुगर, बीपी और अन्य सभी लाइलाज बीमारीयों का उपचार भी किया जाता है। इसलिए हीम्स हॉस्पिटल जाने से पहले इस पोस्ट को पूरा पढ़े।

हिम्स अस्पताल का मालिक कौन है? (Hiims hospital Founder)

हीम्स हॉस्पिटल चंडीगढ़ का मालिक कोई एक व्यक्ति ना होकर पाँच है। जिनमें सबसे मुख्य नेचुरोपैथी चिकित्सक डॉक्टर बिस्वरूप रॉय चौधरी जी है। दूसरे नम्बर पर Owner शुद्वि आयुर्वेदा कंपनी के संस्थापक आचार्य मनीष जी है। उसके बाद डॉ अवधेश पांडे और पटियाला के डॉक्टर अमर सिंह आजाद है। इनके अलावा भी बहुत सारे लोग इस हीम्स के मिशन में जुड़े हुए हैं लेकिन मुख्य रूप से कार्य करने वाले लोग ये सब ही है।

हीम्स हॉस्पिटल में भर्ती होने की क्या प्रक्रिया है?

हिम्स अस्पताल में जाकर इलाज करवाने के लिए पहले आपको OPD ओपीडी के लिए घर से ही ऑनलाइन बुकिंग करनी होंगी। आपकी बुकिंग होने के बाद आपको ओपीडी टाइमिंग्स और सारी जानकारी फोन कॉल के द्वारा बता दी जाएगी या फिर आपके ईमेल / मैसेज पर मिल जाएगी। इसके अलावा आईपीडी IPD के अंर्तगत उन मरीजों का इलाज किया जाता है जो अपने एन्ड स्टेज में है। जिनकी बीमारी बहुत गंभीर है। यहाँ पर समझने वाली बात यह है कि आप सीधे हॉस्पिटल ना जाए क्योंकि वहाँ पर सीट सीमित होती है आप पहले घर से ही Hiims Staff से फोन नम्बर के द्वारा सम्पर्क करें उसके बाद ही वहाँ पर जाए।

हीम्स हॉस्पिटल में इलाज का खर्च कितना है? (Hiims treatment charges)

₹8000/- प्रतिदिन जनरल वार्ड का खर्चा है जिसमें Food, Stay & Therapy तीनों शामिल हैं। यदि आयुर्वेदिक दवाओं की जरूरत पड़े तो उसका भी आपको अलग से पैसा देने की कोई जरूरत नही है। इसके बाद प्राइवेट वार्ड आता है जिसका एक दिन का खर्चा ₹14000/- है और तीसरी कैटगरी सेमि-प्राइवेट वार्ड है जिसका चार्ज एक दिन का ₹12000 रूपये है। निष्कर्ष के तौर पर एक कंप्लीट पैकेज में आपको सबकुछ मिल जाएगा। अलग से खाना, पीना, रहना और अन्य चिकित्साओं का पैसा देने की जरूरत नही है। जैसा कि अन्य अंग्रेजी चिकित्सा के अस्पतालों में होता है। इसके अलावा आपके साथ कोई अन्य परिवार सदस्य चलता है तो उसको सिर्फ रहने और खाने का खर्च देना होंगा।

घर बैठे हीम्स हॉस्पिटल की सुविधाओं का लाभ कैसे ले? (HiiMs at Home kya hai)

यदि आपकी आर्थिक स्थिति सही नही है और घर पर उस उपचार को जानना चाहते हैं जो वहाँ पर हिम्स विशेषज्ञों द्वारा किया जाता है। तो आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अप्पोइंट ले सकते हैं। वैसे मुख्य रूप से 70% इलाज आपका डीआईपी डाइट के द्वारा ही किया जाता है। वैसे मुख्य रूप से ये सर्विस उन लोगो के लिए ही है जिनको अस्पताल आने की जरूरत नही है। ऐसे मरीजों को ‘हीम्स एट होम’ प्रोग्राम के जरिए Virtual Opd के माध्यम से घर पर ही ठीक किया जाता है।

हीम्स हॉस्पिटल कैसे जाए? (Hiims hospital kaise jaye)

hiims hospital kaise jaye, biswaroop ji ka hospital himms kaha par hai,हीम्स हॉस्पिटल पहुँचने के लिए आपको भारत के हर बड़े शहर से रेल और हवाई जहाज मिल जाएगी। डेरा बस्सी से नजदीकी रेलवे स्टेशन का नाम Ghaggar railway station है। फ्लाइट से आने के लिए शहीद भगतसिंह अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है और लुधियाना घरेलू एयरपोर्ट मौजूद हैं। रोड के द्वारा आने के लिए आप सीधे चंडीगढ़ सिटी आ जाइए। यहाँ से डेरा बस्सी Hiims मात्र 19 किलोमीटर दूर है।

प्रश्न उत्तर

हीम्स हॉस्पिटल चंडीगढ़ कहाँ पर है?

Hiims hospital chandigarh address in hindi हीम्स हॉस्पिटल की मुख्य ब्रांच भारत देश के पंजाब और हरियाणा राज्य की राजधानी चंडीगढ़ के डेराबसी शहर के देवीनगर एरिया, दिल्ली हाइवे पर स्थित है। डेराबसी पंजाब का एक एक शहर है।

हीम्स हॉस्पिटल चंडीगढ़ में एक दिन की फीस कितनी है?

हीम्स हॉस्पिटल चंडीगढ़ में एक दिन ठहरने का खर्चा ₹10,000/- है। जिसमें आपका खाना, पीना, रहना और सभी चिकित्सा (ट्रीटमेंट) का शुल्क इन दस हजार रूपये में शामिल है।

Hiims Millet Recipe क्या है?

भारत के मिलेट मैन नाम से मशहूर फूड वैज्ञानिक डॉक्टर खादर वली ने अपनी मोटी तनख्वाह वाली अमेरिका देश की नौकरी को छोड़कर भारत में मोटे अनाज की खेती करना शुरू किया। जिसमें वे बाजरा, मक्का, कंगना, रागी, जौ आदि सभी तरह के मोटे अनाजो (मिलेट) को चावल व गेंहू के विकल्प के तौर पर खाने की सलाह देते हैं।

पूरा पता Hiims चंडीगढ़ अस्पताल का

Back Side Of Jugraj Dhaba, Pind Devinagar Hadbast No. 18 Chandigarh Delhi Highway Tehsil Derabassi, Distt Mohali, Chandigarh, Punjab 140507

 

हीम्स हॉस्पिटल में इलाज करवाने के फायदे

  • घर जैसा माहौल मिलता है और किसी भी प्रकार की दर्दनाक चिकित्सा नही होती।
  • आपके शरीर में कोई भी बीमारी हो यदि आप उनके द्वारा बताई गई सभी बातों का अच्छे से पालन करते हैं तो शत प्रतिशत आपकी बीमारी ठीक होगी।
  • रोग की जड़ पर काम किया जाएगा और जब आप अस्पताल से बाहर निकलेंगे तो फिर कभी बीमार नही पड़ेंगे।


आज आपने Hiims Hospital Chandigarh In Hindi के बारे में हिंदी भाषा में सबकुछ जाना।नीचे दी गई हीम्स हॉस्पिटल से संबंधित पोस्ट भी पढ़े। आपका कोई भी सवाल हो तो जरूर पूछे। जवाब आपको एक घण्टे के अंदर मिल जाएगा। इस पोस्ट को शेयर करें और अन्य लोगो को आरोग्य प्राप्त करवाने में मदद करे।

इन्हें भी पढ़े 

हीम्स हॉस्पिटल के डॉक्टर अमर सिंह आजाद का जीवन परिचय

राजीव दीक्षित जी के स्वास्थ्य सूत्र

क्रांतिकारी होम्योपैथी डॉक्टर लियो रेबेलो जीवनी

बिसवरूप रॉय चौधरी जी की निशुल्क पुस्तके पीडीएफ में डाऊनलोड करें

हीम्स हॉस्पिटल से जुड़े हुए मानस समर्थ का जीवन परिचय

सात्विक मूवमेंट के बारे में हिंदी में

चंडीगढ़ के बारे में पूरी जानकारी

 

Leave a Comment