घर पर पीने का पानी शुद्ध करने के 15 तरीके और घरेलू उपाय | How to Purify water at home naturally in Hindi

Table of Contents

  घर पर पीने का पानी शुद्ध करने के 15 तरीके और घरेलू उपाय 

ये बात हम सबको अच्छी तरह से पता है कि यदि मानव शरीर को हर रोज शुद्ध प्राकृतिक जल पीने के लिए मिल जाए तो पच्चास प्रतिशत बीमारिया स्वतः ही ठीक हो जाए। लेकिन क्या इस जल प्रदूषण के जमाने में शुद्ध पानी मिलना संभव है? इसका उत्तर स्पष्ट है की बिल्कुल सम्भव है! ऐसे एक नही सेकड़ो तरीके हैं जिसकी मदद से आप घर पर ही प्राकृतिक तरीके से शुद्ध पीने के पानी का निर्माण कर सकते हैं। यदि आप जल शुद्धिकरण के सारे घरेलू, प्राकृतिक और आयुर्वेदिक तरीके सीखना चाहते हो तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़े। इस पोस्ट का हर शब्द बहुत कीमती है मेरा वादा है आपसे इस पोस्ट को पूरा पढ़कर जाते हैं तो आपको बहुत सारी अमूल्य जानकारी प्राप्त होंगी।


पानी को गर्म करके (Boiling Water For Purification)

आपके घर, दफ्तर या किसी भी जगह पर कितना भी दूषित पानी क्यों न हो, उस पानी को हल्का गर्म करने से पानी में मौजूद सारे हानिकारक बैक्टीरिया और कैमिकल नष्ट हो जाते हैं।


 तुलसी के पत्तो से बनता है पानी अमृत जेसा (Drinking Basil Water Benefits)

gande pani ko kaise saaf kare, kaun sa pani pina chahiye,

उपरोक्त उपबिन्दु में बिल्कुल सही पढ़ा! अपने पीने के पानी के बर्तन में 5-6 पत्ते तुलसी के डाल दीजिए। एक घण्टे के अंदर-अंदर पूरा जल शुद्ध हो जाएगा। सबसे अच्छी बात पानी का स्वाद भी एकदम अच्छा लगेगा। तुलसी के पौधे का भारत में आध्यात्मिक, धार्मिक और आयुर्वेदिक तीनो महत्व है।

[मेरा सुझाव] – तुलसी की पत्तियों के बहुत सारे टुकड़े करके पानी पीने के बर्तन में डाल दे और पानी को बड़े चम्मच से हिला दे। इससे वो पत्तिया पूरे पानी में घुल जायेगी।

फिटकरी का प्रयोग पानी शुद्धिकरण में। Fitkari Se Pani Kaise Saaf Hota Hai?

fitkari ke pani ko peene ke fayde, fitkari benefits in hindi,

फिटकरी एक आयुर्वेदिक औषधि होती है जो सफेद और हल्की लाल रंग की आती है। इसकी कीमत भी बहुत कम होती है। फिटकरी का उपयोग प्राचीनकाल से लोग पानी को शुद्ध करने के लिए किया जाता है। फिटकरी से पानी शुद्ध होने में 24 घण्टे का समय लगता है। चौबीस घंटे के बाद आप लाइव अपनी आंखों से अपनी बाल्टी के अंदर जमे पूरे गंदे मैल को देख सकते हैं। आइए जानते हैं चरण दर चरण फिटकरी का उपयोग कैसे किया जाता है;

Step By Step Guide To Clean Water through fitkari [फिटकरी विधि] 

【स्टेप 1】जितना पानी आपको शुद्ध करना है उतना पानी बाल्टी में भर दीजिए।

【स्टेप 2】अभी उस फिटकरी के टुकड़े को पानी में तीन से चार बार हाथ से ही घुमाए।

【स्टेप 3】अब उस पानी को 24 घण्टे तक बिल्कुल हाथ ना लगाए।

【स्टेप 4】अगले दिन उस पानी को ऊपर से लोटे से लेकर मटके में छान लें और नीचे जो मैल जमा (गंदा पानी) उसको बाहर फेंक दीजिए।

[निष्कर्ष] – इस तरह आपने फिटकरी से पानी को साफ करना सीख लिया।

पानी रखने के सही बर्तन का चुनाव करे। Mitti Ke Bartan Me Pani Pine Ke Fayde

यदि आप एल्युमिनियम के बर्तन में या प्लास्टिक के केन (केम्पर) में पानी रखते हैं। तो जितना चाहे उतना उपाय कर लो आपका शुद्ध पानी भी अशुद्ध (गंदा) हो जायेगा। प्लास्टिक व एल्युमिनियम के बर्तन में पानी रखने से उसमें कई प्रकार के हानिकारक तत्व मिल जाते हैं। जिससे आपको नाना प्रकार की बीमारियां हो सकती है।इसलिए हमेशा मिट्टी के बर्तन (मटके) में ही पानी पीएं।

सेंधा नमक डालकर Clean Water through the Black Salt & Rock Salt

यह मेरा पर्सनल एक्सपिरेमेंट है इससे पानी शुद्ध होता है। साथ ही पेट दर्द भी खत्म होता है। एक काम कीजिए, जिस दिन आपको अपने घर का पानी कड़वा लगे या स्वाद में खारा लगे तब उस पानी को गर्म करके स्वादानुसार सेंधा नमक मिला दीजिए और एक लोटा भरकर पी लीजिए। एकदम पेट पूरा साफ हो जायेगा। सेंधा नमक जिसको काला नमक भी बोलते हैं।

पीने के पानी को प्रदूषित होने से कैसे बचाए? (How to Stop Drinking Water Pollution in Hindi)

जल प्रदूषण को रोकने का सबसे प्रभावशाली और कारगर तरीका है, सुबह से शाम तक उपयोग होने वाली वस्तुओं का ‘प्राकृतिक विकल्प’
(Eco Friendly Alternative) खोजिए। उदाहरण के लिए डिटेरजेंट पाउडर की जगह कपड़े धोने का साबुन उपयोग करे। अब तो डिटेरजेंट पाउडर भी इको फ्रेंडली बनाया जा सकता है बाजार से कुछ आयुर्वेदिक औषधियों की मदद से नहाने और हाथ धोने का घर पर ही ‘मुल्तानी मिट्टी, नीम और हल्दी’ को मिलाकर आयुर्वेदिक साबुन बनाया जा सकता है।

 क्या Ro & UV का पानी पीना चाहिए? (Water purifiers Side effects in Hindi)

आपने टेलीविजन पर फ़िल्म अभिनेत्री और एक्टर धर्मेंद्र की पत्नी हेमा मालिनी को केंट आरओ वाटर प्यूरीफायर का विज्ञापन करते हुए देखा होंगा, जिसमें वो गर्व से कहती है की “केंट देता है सबसे शुद्ध पानी” लेकिन अब इस कहावत को बदलना पड़ेगा।

दुनिया का हर आरओ पानी मतलब वाटर प्यूरीफायर देता है दुनिया का सबसे गंदा और प्रदूषित पानी।

चलिए इसका वैज्ञानिक विश्लेषण करते हैं; क्या आपको पता है प्यूरीफायर में एक ब्लीचिंग पाउडर का फीचर होता है उसी से आपका पानी साफ होता है इस प्रक्रिया में आपके पानी के सारे पोषक तत्व और अच्छे बैक्टरिया भी मर जाते है। इसके अलावा ‘Water Bleaching’ के साथ ही आपके पानी में खतरनाक कैमिकल भी मिल जाते हैं। जिससे आपको बहुत सारे रोग होते है।

एकदम 100% शुद्ध जमीन से निकला हुआ पानी कहाँ पर मिलेगा? (How to search/find Pure Water without any chemical)

इस पूरे पैराग्राफ को, मेने अपने व्यक्तिगत अनुभव के आधार पर लिख रहा हूँ क्योकी मैने शत प्रतिशत कैमिकल फ्री शुद्ध जल पीया है। आज मैं आपको भी उन जगहों और स्थानों के बारे में बताना चाहता हूँ जहाँ पर जाकर आप प्रकृति के दिव्य मीठे जल का आनंद ले सके।

[१.] तीर्थ स्थलों पर जाकर – भारत के किसी भी राज्य/ जिला/ शहर / गांव में आप कोई तीर्थ यात्रा कीजिए वहाँ पर आपको कैमिकल मुक्त पानी मिलेगा।

यह भी पढे –   ऐसे 7 भारत के तीर्थ स्थल जहाँ पर आपको पीने के लिए मिलेगा दिव्य शुद्ध जल वो भी निशुल्क (Free)

[२.] खेत में जाकर – सबसे आसान और सरल तरीका शुद्ध जल खोजने का यही है। आप यदि शहर में रहते हैं तो आपके जिले के किसी भी गांव में चले जाए और उस गांव में विशेषकर उस खेत में जाइये जहाँ पर पानी की मोटर लगाई गई है। वहाँ पर आपको शुद्ध जल मिलेगा।


[3.] पहाड़ो पर –  इसका मतलब ये नही है की आपको किसी पर्वत की चढ़ाई करनी है। मैं पहाड़ी पर्यटन की बात कर रहा हूँ। उदाहरण के लिए बहुत सारे प्राकृतिक झरने, पहाड़ो पर प्रसिद्ध मंदिर आपके शहर या जिले में होंगे उनकी खोज करके वहाँ पर अपना टूर बनाये। यहाँ पर भी आपको एकदम शुद्ध जल मिलेगा।

सनातन (हिन्दू) धर्म में पानी के बारे में आध्यात्मिक ज्ञान (Spiritual importance of water in Hindi)

पानी के साथ आप जैसा बर्ताव करेंगे, पानी भी आपके साथ वैसा ही बर्ताव करेंगा। क्यों लोग एक चम्मच पानी (चरणामृत) के लिए घण्टो लाइन में लगते हैं? क्योकी उस पानी में ईश्वर के गुण होते है। और हम चाहते हैं कि यह दिव्य गुण हमारे शरीर में प्रवेश करें। तांबे के घड़े में पानी रखे व थोड़ी देर हर सुबह उसकी पूजा करे, साथ ही एक दीपक जलाएं तथा पास में एक फूल रखें। इसके अलावा हर समय पानी पीते समय भगवान का नाम लेकर और पानी का सम्मान करते हुए पीये। क्योकी सबसे बड़ा भगवान यही है। हम मनुष्य सात दिन या एक महीना बिना भोजन के रह सकते हैं लेकिन पानी के बिना जीवित नहीं रह सकते।

Amazing Facts About Water Purification in Hindi ( पानी को शुद्ध करने के बारे में आश्चर्यजनक रोचक तथ्य)

#1. आयुर्वेद की जड़ी-बूटी ‘ अग्निहोत्री भष्म कमाल की औषधि है। हमारे कुछ साधु-संत जहाँ पर भी नदी-तालाब देखते है वहाँ पर मुठी भरकर यह अग्निहोत्री भष्म (Agnihotri Bhasm) डाल देते हैं। जिससे पूरी नदी का पानी साफ हो जाता है। इस तरह आप बोल सकते हैं की

जल शोधन का सर्वश्रेष्ठ उपाय – अग्निहोत्री भष्म!

#2. कितना भी विषैला पानी क्यों न हो गया हो, भारतीय वैदिक देशी गाय  के गोबर में थोड़ा सा एलोवेरा (ग्वारपाठा) का रस मिलाकर, हाथ से दबा-दबाकर कंडा बनाए, टाइट दबाए, उसके बाद उस कंडे को 20-25 लीटर पानी में डाल दीजिए। अगले दिन उस कंडे को बाहर निकाल दे। आप देखेंगे की पानी पूरा शुद्ध हो जायेगा व पानी में अच्छी सुंगध भी आयेगी।

#3. मानव शरीर का 70% हिस्सा पानी से बना है। सोचिए आपके शरीर में पीने का पानी ही शुद्ध नही जाएगा तो इसका मतलब आप हर दिन अपनी आयु घटा रहे हैं।

#4. पानी की लवणता या अशुद्धि मापने का तरीका टीडीएस (TDS) एक मूर्ख साइंस है। क्योकी जब हम पानी में कुछ औषधि डालते हैं तो पानी का टीडीएस लेवल बढ़ जाता है। जबकी आपको पता है आयुर्वेदिक औषधि से पानी को किसी प्रकार नुकसान नहीं होता। उल्टा उस पानी के औषधीय गुण बढ़ जाते हैं।

#5. आज दुनियाभर में पानी को शुद्ध या साफ क्लोरीन (Clorin) से किया जाता है। क्लोरीन से बैक्टेरिया तो मर जाते हैं लेकिन सूक्ष्म अशुद्धिया जैसे – धातुविष, माटरूरी या आर्सेनिक वगैरह दूर नही हो पाते है। इसलिए क्लोरीन, फ़्लोरिन और ब्लीचिंग किया हुआ ड्रिंकिंग वाटर ना पीये।

आज आपने किसी भी प्रकार के किसी भी मौसम में घर पर ही पीने के पानी को शुद्ध कैसे करे, आयुर्वेदिक और प्राकृतिक तरीके से पानी को साफ कैसे करे, इसके बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त की। पोस्ट को भारत के हर घर तक पहुँचाने में मदद करे। आपको इस आर्टिकल में क्या अच्छा लगा उसके बारे में अपने नीचे ब्लॉग कॉमेंट बॉक्स में लिखे।

इन्हें भी पढ़े [ Related Articles ]

मोबाइल फोन से आँखों को होने वाले नुकसान से कैसे बचाएं?

 पेड़-पौधों पर आधारित भोजन करने के फायदे।

फल-कच्ची सब्जीयों से होती है, हर बीमारी जड़ से खत्म

हस्त मुद्रा मोबाइल फोन से आँखों को होने वाले नुकसान से कैसे बचाएं?चिकित्सा के फायदे 

शरीर कमजोर होने का कारण बनती है ये गलत अनहेल्दी फूड की आदतें

एक आदर्श योग दिनचर्या सबके लिए!

 होम्योपैथी की चमत्कारिक दवाईयां 

 मूर्खो की तरह रेडबुल पीकर अपना पैसा बर्बाद मत करो

स्वस्थ और रोगमुक्त जीवन कैसे जिएं

Leave a Comment