Volunteering क्या है और कैसे करें? | Volunteer बनकर पैसा व खुशी कैसे प्राप्त करे?

Volunteering क्या है और कैसे करें? | Volunteer बनकर पैसा व खुशी कैसे प्राप्त करे?

volunteering का शुद्ध हिंदी में अर्थ होता है – स्वयं सेवा। मतलब अपनी मर्जी से किसी सरकारी या गैर सरकारी संस्थाओं के लिए बिना पैसे की इच्छा या मांग के काम करने की प्रक्रिया को वोल्यूटरिंग कहते हैं। इसके अलावा जो व्यक्ति अपनी सेवा देता है उसे Volunteer कहते हैं। आज आपको इस पोस्ट में वोल्युटीरिंग से जुड़े सभी प्रकार के सवालों के जवाब मिल जायेंगे। क्योकी मैं और कारण बताऊंगा जिससे लोग इस प्रकार के कार्य को खोजते हैं परन्तु जब मैंने जाँच-पड़ताल की तो पता चला की पूरे इंटरनेट पर इस टॉपिक पर कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।

Volunteering कितने प्रकार की होती है? (Types of voluntary organization in Hindi)

स्वयं सेवा मुख्य रूप से दो प्रकार की होती है। पहली सरकारी और दूसरी गैर सरकारी (प्राइवेट) संस्थान। इनको अक्सर गैर सरकारी संगठन (NGO) भी कहा जाता है।

【अ】गैर सरकारी एनजीओ-
प्राइवेट संस्थाओं के साथ काम करने में ज्यादा परेशानियों का सामना नही करना पड़ता। क्योकी इससे जुड़ने के लिए आपको किसी प्रकार की डिग्री की आवश्यकता नही होती है। आप भारत के किसी भी राज्य के शहर में जाकर वोलुण्टीरिंग कर सकते हैं।

【ब】सरकारी एनजीओ (NGO) –
इसके अंतर्गत गवर्मेन्ट यानी सरकारी संगठन आते हैं। जिसके विभिन्न क्षेत्रों के एनजीओ से जुड़कर आप अपनी सेवा दे सकते हैं। लेकिन इसमें एक समस्या है। वो प्रॉब्लम यह है की इसको हर कोई जॉइन नही कर सकता। इसमें आप जिस भी फील्ड में रह रहे हो उसमें अनुभव या प्रमाण पत्र मांगा जाता है।

Volunteering करने के फायदे (volunteer benefits)

#1. पहला Benefit यह है की बहुत सारे लोग होते हैं जो किसी न किसी कारण से दुःखी होते हैं। ये लोग कुछ समय के लिए ऐसी जगह पर रहने की इच्छा व्यक्त करते हैं जहाँ पर इनको भोजन और रहने की आवासीय सुविधा मिल जाये। ऐसे में इन लोगो के लिए इस तरह के काम करना सबसे अच्छा माध्यम होता है।

#2. आप जिस भी फील्ड में जाना चाहते हैं उसके कौशल के अनुसार भी वोल्यूटरिंग कर सकते हैं। उदाहरण के लिए आप अगर पशु-प्रेमी है तो एनीमल राइट के लिए लड़ने वाले या एनीमल लवर संगठन से जुड़कर अपनी सेवा दे सकते हैं । ऐसे में आपको अपने क्षेत्र के महारथी लोगो से ज्ञान प्राप्त हो जाता है।

#3. वोल्यूटरिंग करने से आपको एक नये शहर का वातावरण देखने को मिलता है। नये लोगो से मिलने का मौका मिलता है नये व्यजंन का आनंद आता है।

यह भी पढ़े –  देश विदेश घूमने के फायदे 


#4. आप जिस भी संगठन से जुड़कर वोल्यूटरिंग कर रहे हैं। वहाँ पर अगर लोगो का माहौल अच्छा होता है तो आपको मानसिक शांति मिलती है। आपका शारिरिक स्वास्थ्य भी अच्छा होता है।

#5. वोल्यूटरिंग करने से या एक वोलुण्टीर बनने का सबसे बड़ा फायदा यही है की आप समाज की निस्वार्थ सेवा करते हैं। समाज मतलब देश। जेसा की ये बात आपको पता ही होंगी – जब एप्पल कंपनी के फाउंडर स्टीव जॉब्स अपने अंतिम दिनों में किसी पत्रकार ने पूछा की आपको अभी क्या अच्छा लग रहा है या क्या याद आ रहा है। तो उन्होंने जवाब दिया की जो मैंने समाज उत्थान के लिए कार्य किये वो ही याद रहे हैं। सरल भाषा में समझाऊ तो मरने के छः महीने पहले सिर्फ व्यक्ति को उसके किये हुए अच्छे कार्य ही याद रहते हैं।

भारत में स्वंयसेवी संस्थान जिनसे जुड़कर आप काम कर सकते हैं। [ Best NGO for Work in India Hindi Me ]

#1. Apna Ghar NGo Bharatapur
‘अपना घर’ नाम से एनजीओं राजस्थान के भरतपुर जिले में स्थित है। यह ngo मानवता की सेवा करता है। अपना घर के संस्थापक दंपति का साक्षात्कार कई बॉलीवुड हस्तियां, यूटुब चैनल वाले ले चुके हैं। इस एनजीओं में आप ऐसे लोगो को देखोंगे जो अपने परिवार से या समाज से शोषित है, विकलांग है, वृद्ध है जिनके आगे-पीछे कोई नहीं है। ऐसे लोगो की सेवा करता है। यहाँ की ख़ास बात यह है की ये अपना हर दिन का खर्चा ठाकुरजी ( भगवान) के नाम खत लिखकर भेजते हैं और ठाकुरजी इनकी बात को सुन भी लेते हैं। अगर आप कुछ समय जिंदगी का यह भावनात्मक अनुभव लेना चाहते हैं तो आप यहाँ पर “As a Volunteer” जुड़ सकते हैं। सीधा इनकी ऑफिशियल वेबसाइट में जाये। और अपना वोलुण्टीर के सेक्शन में जाकर अपना फॉर्म अपने फील्ड से संबंधित या As a Prabhuji यानी किसी भी तरह की सेवा करने के लिए आप समर्थ है। तो यहाँ आ सकते हैं। यह उनका स्लोगन है


Service of homeless hopeless helpless sick persons is our worship and prayer 

Apna Ghar Ngo Contact, email address, Phone number & More 

APNA GHAR ASHRAM
Village Bajhera, Post Noh Bachhamadi, Bharatpur-321001, Rajasthan (India)
+918599999911-22, +918764396811
[email protected], [email protected], [email protected]


#2. Akhil Vishva Gaytri Pariwar, Haridwar
अखिल विश्व गायत्री परिवार  एक आध्यात्मिक संगठन है जो भारत के हरिद्वार शहर में मौजूद हैं। यहाँ से जुड़कर आप योग, ध्यान, स्वास्थ्य, शिक्षा, ज्ञान, जड़ी-बूटी सभी प्रकार की जीवन विद्या सीख सकते हैं।

#3. Antarrashtriya Krishna Bhavanaamrit Sangh
अंतरराष्ट्रीय कृष्णा भावनाअमृत संघ   एक कृष्णा आन्दोलन है जिसमें आपको भगवान द्वारा बोली गई भगवदगीता का ज्ञान सीखने को मिलेंगा। इसके अलावा भजन-कीर्तन और आध्यात्मिक माहौल मिलेंगा।

#4. Goonj Ngo Se Kaise Jude
गूंज एक गैर सरकारी संगठन है जिसके संस्थापक अंशु गुप्ता है। किसी ने ठीक ही कहा है की “Every Success Stories is Great Failure” मतलब हर आदमी सफल होने से पहले बहुत संघर्ष करता है और कई असफलता का सामना करता है। ठीक ऐसा ही Anshu Gupta के साथ हुआ। इन्होंने अपनी जॉब छोड़ी थी जब मात्र 1000 रूपये जेब में थे। इनका संगठन देश में आयी हुई किसी भी आपदा, बाढ़, भूकम्प से पीड़ित लोगों की मदद करता है। उनको पहनने के कपड़े और जरूरत का सामान देता है। Goonj ngo website में जाकर इनसे जुड़ सकते हैं।

इस तरह के Volunteer बने मिलेंगा पूरा लाभ (Best volunteer programs in india)

देखिए वोल्यूटरिंग का मतलब यही है की आप अपने दुखों को दूर करने के लिए, पैसे कमाने के लिए या किसी चीज का अनुभव प्राप्त करने के लिए अपना समय देते हैं। लेकीन मैं यह पैराग्राफ उन लोगो के लिए लिख रहा हूँ जो किसी घर की समस्या या टेंशन के कारण कुछ समय के लिए घर-परिवार से दूर रहना चाहते हैं। ऐसे में वे लोग किसी आध्यात्मिक संगठन के साथ जुड़कर वहाँ पर देश, प्रेम, त्याग, बलिदान, सेवा, समर्पण सबकुछ सीख सकते हैं। इन संस्थाओं में विभिन्न प्रकार के शिविर चलते रहते हैं। ऐसे में यह वोल्यूटरिंग का भरपूर लाभ उठाने का सही तरीका है। वेसे बाकी दो ‘Best volunteer organizations’ के बारे में ऊपर के पैराग्राफ में बता चुका हूँ। यहाँ पर मैं आपको एक और आध्यात्मिक संगठन में काम करने का सुझाव दे रहा हूँ जहाँ पर मैंने भी 10 दिन सेवा की। 


यह भी पढ़े पतंजलि योगग्राम हरिद्वार 

Volunteering Aur Volunteer Ke Liye FAQ

Q.1) Sabse Best Spiritual NGO कौनसा है?

उत्तर - शांतिकुंज हरिद्वार।

Q.2) Kya Volunteering Karne ke Paise milte hai?

उत्तर -जी हाँ। कई जगह इसको समयदान भी कहा जाता है। जिससे आप अपनी सेवा देकर पैसा भी कमा सकते हैं।

Q.3) Volunteering और SamayDan में क्या अंतर है?

दोनों एक ही है। दोनों के अंदर आप अपने समय को दूसरों को देते हैं बिना कुछ लिए।

खुश रहने के लिए Volunteering एक जरिया बन सकता है (How to get Happiness in Hindi)

दुनिया का हर इंसान, चाहे वो गरीब हो या अमीर हर कोई खुशी प्राप्त करना चाहता हैं। लेकिन यही एक चीज है जो वर्तमान में लोगो को आसानी से नही मिलती। ना इस विषय पर स्कूल-कॉलेजो में बात होती है। ऐसे में स्वयं सेवा ( Volunteering) करके आप जीवन की सबसे जरूरी चीज को हासिल कर सकते हैं। जब आप किसी की मदद करते हैं तो अपनेआप प्रकृति आपको एक अच्छी फिलिंग देती है। मैं तो आपको सलाह दूंगा, आप जिस भी क्षेत्र में कामयाब बनना चाहते हैं उससे हटकर आश्रम, एनजीओ, गौशाला, धर्माथ-परमार्थ के कार्यो से बिना पैसा सेवा करके कुछ समय यहाँ पर व्यतीत करे जिससे आपको एक मानसिक शांति मिलेंगी। आपको बहुत कुछ नया सीखने को मिलेंगा।

 

List of Best volunteer organizations in india 

  1. Parmarth niketan ashram rishikesh 
  2. isha foundation coimbatore
  3. osho spiritual organization
  4. Apna Ghar Bharatpur 
  5. international society for krishna consciousness
  6. All world gayatri pariwar
  7. Sant shri asharamji bapu ashram ahmedabad
  8. Pathmeda gaushala rajasthan
  9. Harmandir sahib amritsar (Golden Temple)



आज आपने इस पोस्ट में Volunteering Aur Volunteer क्या है? इसके बारे में हिंदी में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त की। अगर आपके मन में इस विषय संबंधित कोई भी विचार है तो नींचे ब्लॉग कॉमेंट बॉक्स में कमेंट करे। इस पोस्ट को जरूरतमंद लोगो को साझा करें।


इन्हें भी पढ़े [ Related Articles ]

ये पोस्ट पढ़ते ही आपको पक्का रोजगार (जॉब) मिलेंगी। कोई भी किसी भी वर्ग का कर सकता है साथ ही रहना, खाना, नौकरी

घर बैठकर डिजिटल मार्केटिंग सीखकर महीने के 30 से 40,000/- कमाये

Freelancing freelancer क्या है? फ्रीलांसर से मैंने कमाए 40,000 रूपये।

ऑनलाइन पैसा कमाने के लिए किन किन कौशल को सीखना जरूरी है?

 एक ऑनलाइन काम करने वाले की जिंदगी कैसी होती है? Online Work Kaise kare

 इन 3 तरीको से घर बैठे एंड्रॉइंड ऐप्प बनाना सीखें

 गूगल डिजिटल लर्निंग प्रोग्राम

इंटरनेट पर पैसे कमाने के तरीके जो गलत है 

ट्विटर से पैसे कैसे कमाए?

 

Leave a Comment