Maharashtra Me Kitne Jile [District] Hai? महाराष्ट्र के सभी जिलों के नाम

Table of Contents

Maharashtra Me Kitne Jile [District] Hai? महाराष्ट्र के सभी जिलों के नाम


वर्तमान सन् 2022 में महाराष्ट्र राज्य के कुल जिलों की संख्या छत्तीस 36 हैं। आज आप महाराष्ट्र के सभी जिले के नाम व उनकी क्या विशेषता है, इसके बारे में संक्षिप्त परिचय पढ़ेंगे।


1. अहमदनगर जिला Ahmednagar District

जेसा की नाम से ही पता चलता है की यहाँ पर किसी न किसी मुगल शासक ने शासन किया होंगा। ये जिला पहले निजामशाही सुल्तानों की केमिटल थी। प्रथम मुगल शासक अहमद निजाम शाह के कारण इसका नाम अहमदनगर पड़ा। आध्यात्मिक संत मेहर बाबा, भारतीय क्रिकेट बॉलर जहीर खान व अन्ना हजारे जेसे बड़ी हस्तियों ने इस जिले में जन्म लिया। इसके अलावा मैहर बाबा की समाधी कैवलरी टैंक संग्रहालय, अनेकों मंदिर, मकबरे आदी देखने लायक स्थल है।

 

2. अकोला जिला Akola District

अकोला भारत के महाराष्ट्र राज्य का एक जिला हैं। यह जिला अपने ऐतिहासिक व प्राकृतिक संसाधनों के कारण जाना जाता है। यहाँ का नारनाल का किला बहुत प्रसिद्ध है जिसे शाहनूर किला भी कहते हैं। इसके अलावा आप सालसर बालाजी मंदिर व कतेपुर्ण वन्यजीव अभ्यारण भी देख सकते हैं।


3. अमरावती जिला Amravati District

अमरावती जिले का नाम हिन्दू देवी अम्बादेवी मंदिर के नाम पर रखा गया था। ये जिला मुम्बई-कोलकाता हाइवे पर आया हुआ है। सतपुड़ा पहाड़ी क्षेत्र में स्थित मेलघाट टाइगर रिजर्व प्रकृति प्रेमियों के लिए अच्छी जगह है।

 

4. औरंगाबाद जिला Aurangabad District

औरंगाबाद जिला मुख्य रूप से अपने ऐतिहासिक महत्व की इमारतों के लिए जाना जाता हैं। इसके अलावा यहाँ पर बहुत सारे औद्योगिक कारखाने व शिक्षा केन्द्र भी है। आपने अजंता और एलोरा की गुफाओं के बारे में तो सुना ही होंगा जो की विश्व विरासत स्थल है वे इसी जिले में मौजूद हैं।

 


5. बीड़ जिला Beed District

बीड़ जिला अपने धार्मिक पर्यटन स्थलों के रूप में जाना जाता है। यहाँ पर हिन्दू और मुस्लिम धर्म की अनेक देखने लायक जगहे हैं। मुख्य रूप से कंकलेश्वर मंदिर प्रसिद्ध हैं। यह जिला रामायण काल से भी जुड़ा हुआ है। कपिलधारा झरने का आनंद सभी प्रकृति प्रेमी मंत्रमुग्ध कर देता है।

यह भी पढे –  पर्यटन व पर्यटक क्या होता है इसका मतलब क्या होता है? 

 

6. भंडारा जिला Bhandara District

भंडारा भारत देश के महाराष्ट्र राज्य का एक जिला हैं। इसके अंदर सात तहसील हैं व गांवों की संख्या 878 के करीब हैं। इसके अलावा चुन्देश्वरी देवी मंदिर, पहाड़ी क्षेत्र चांदपुर, कोका जंगल, बोद्ध धर्म की समाधी, रावनवाडी बांध तथा उमरेड करहैण्डल वन्यजीव अभ्यारण्य देखने लायक स्थल है।

 

7. बुलढाणा जिला Buldhana District

बुलढाणा अपने धार्मिक स्थल श्री गजानन महाराज मन्दिर शेगाव के लिए प्रसिद्ध हैं। जिले में कुल तेरह तालुका हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग -6, 753A जिले से जुड़ा हुआ है। 2011 की जनगणना के अनुसार जिले की आबादी ३० लाख हैं।

 

8. चंद्रपुर जिला Chandrapur District

सन् 1 964 तक इस जिले को चंदा नाम से पुकारा जाता था। चंद्रपुर को ब्लैक गोल्ड सिटी भी कहते हैं। यहाँ की पूरी अर्थव्यवस्था कोयले की खदानों पर निर्भर होती हैं। चंद्रपुर का किला इस जिले का सबसे ऐतिहासिक स्थल है।

 

9. धुले जिला Dhule District

धुले मुख्य रूप से आदिशक्ति माँ एकवीरा व स्वामीनारायण मंदिर के लिए प्रसिद्ध हैं। हाल ही में भारतीय रेलवे ने धुले से पुणे तक की नई रेल सेवा शुरू की है जिसमें धुले निवासियों के लिए यह एक बहुत अच्छी खबर है।

 

10. गढ़चिरौली जिला Gadchiroli District

गढ़चिरौली महाराष्ट्र राज्य का एक डिस्ट्रिक्ट हैं।  चरप्रला वन्यजीव अभ्यारण्य, हनुमान मंदिर, पेपर मिल्स, वैरागड किला, बन्द्रेश्वर शिव मंदिर आदि देखने योग्य स्थान हैं।


11. गोंदिया जिला Gondia District

गोंदिया जिला मुख्य रूप से चावल की खेती के लिए जाना जाता है। यहाँ पर बहुत अधिक चावल पैकिंग करने की मिल्स लगी हुई है। यह जिला मध्यप्रदेश राज्य से सटा हुआ है। इसका नामकरण गोंडी आदिवासी लोगो के नाम के आधार पर हुआ था।


12. हिंगोली जिला Hingoli District

हिंगोली भारत देश के महाराष्ट्र राज्य का एक छोटा जिला हैं। यहाँ पर बहुत सारे पुरातात्विक महत्व के मंदिर व मस्जिद हैं। जिसमें चिंतामणि गणपति मंदिर, ईदगाह, चिराग शाह बाबा, मलीनाथ दिगम्बर मंदिर शामिल हैं।

 

13. जलगांव जिला Jalgaon District

जलगांव को भारत का केलो का शहर भी कहा जाता है। क्योकी यहाँ पर बहुत अधिक मात्रा में केले का उत्पादन किया जाता है। इसके अलावा ये जिला भारी मात्रा में गोल्ड सोना बनाने के लिए भी मशहूर हैं। महात्मा गांधी जी के चाहने वालो के लिए ये अच्छी जगह हैं।

 


14. जलना जिला Jalna District

जलना जिले के यातायात व्यवस्था की बात करें तो रेलवे व रोड नेटवर्क से जुड़ा हुआ है। एक नजर जलना जिले पर : –
● आधिकारिक भाषा मराठी हैं।
● व्हीकल रजिस्ट्रेशन नम्बर MH-21 हैं।
● इसे सिटी ऑफ स्टील व बीज की राजधानी भी बोला जाता है।

 

15. कोल्हापुर जिला Kolhapur District

कोल्हापुर जिला अपने प्रसिद्ध मन्दिरो के लिए जाना जाता है। जेसे की एक प्राचीन महालक्ष्मी मंदिर। इसके अलावा कोल्हापुर अपने साज परम्परागत नेकलेस ज्वेलरी के कारण भी प्रसिद्ध हैं। इसके अलावा कोल्हापुर अपने चप्पलों, शक्कर बनाने में व आईटी सिटी के रूप में प्रसिद्ध हैं।

 

16. लातूर जिला Latur District

लातूर जिले में बेसिक व उच्च शिक्षा की यूनिवर्सिटी और स्कूल बहुत ज्यादा संख्या में बने हुए हैं। यहाँ पर लगभग 140 से अधिक कॉलेज बने हुए हैं इसी कारण इसे महाराष्ट्र का एजुकेशन हब भी कहते हैं। इसके अलावा यहाँ पर अंगूर व आम की खेती भी की जाती हैं।

 

17. मुंबई सिटी Mumbai City

मुंबई शहर जिले के बारे में मुझे नहीं लगता आपको कुछ भी बताने की जरूरत पड़ेंगी क्योकी हर भारत का व्यक्ति किसी न किसी मकसद से इस जिले में तो जाता ही है। यहाँ पर बहुत सारे इंडस्ट्रियल एरिया, सेलेब्रिटीज़ के घर, फ़िल्म स्टूडियो, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स व खूबसूरत गगनचुंबी इमारतों को देख सकते हो।


18. मुम्बई उपनगरीय जिला Mumbai Suburban District

मुम्बई उपनगरीय को उपनगर जिला भी बोला जाता है। यह जिला महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई से आठ किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। इसका मुख्यालय बांद्रा हैं। यह कोंकण डिवीजन के अंतर्गत आता है।


19. नागपुर जिला Nagpur District

नागपुर महाराष्ट्र का सबसे बड़े शहरों की लिस्ट में टॉप पांच में आता है। यहाँ का पब्लिक ट्रांसपोर्ट बहुत अच्छा है। वही नागपुर हवाई अड्डा का एयर ट्रैफिक कंट्रोल रूम भारत में सबसे व्यस्तम हैं।

 

20. नांदेड़ जिला Nanded District

नांदेड़ जिला का नाम सिख धर्म के प्रसिद्ध गुरुद्वारा श्री हजूर साहिब नांदेड़ के नाम पर पड़ा। इस गुरुद्वारे में होली व दिवाली पर धूमधाम से जूलूस निकाला जाता हैं। इसे गुरुद्वारों का शहर व संस्कृत कवियों का सिटी भी कहते हैं।

 

21. नंदुरबार जिला Nandurbar District

नंदुरबार जिला मध्यप्रदेश व गुजरात राज्य की सीमाओं से सटा हुआ है। यहाँ पर देखने लायक जगहो में छत्रपति शिवाजी Natya Gruh है जहाँ पर सुंदर प्रतिमा शिवाजी महाराज की लगाई हुई हैं। इसके अलावा सैकड़ो इंडस्ट्रीज यहाँ पर लगी हुई हैं।

 

22. नासिक जिला Nashik District

नासिक जिले के ढोल व तासे पूरे भारत में प्रसिद्ध हैं। हर भारत का ढोली नासिक का बैंड इंस्ट्रूमेंट्स खरीदना पसन्द करता है। नासिक का पुराना नाम गुलशनबाद था इसके अलावा हर बारह वर्ष बाद यहाँ पर कुंभ मेले का भी आयोजन होता हैं।

23. उस्मानाबाद जिला Osmanabad District

उस्मानाबाद डिस्ट्रिक्ट से नेशनल हाइवे – 52 , 63, 65, 361, 548B व 652 जुड़ा हुआ है। इसके अलावा यहाँ पर हवाई अड्डा भी बना हुआ है। इसके अलावा जिले में मुग़ल शासको के मकबरे व मस्जिद भी बने हुए हैं। इसके अलावा बहुत सारे हिन्दू धार्मिक स्थल भी बने हुए हैं।

यह भी पढे –   भारत के सभी राज्य और केंद्रशासित प्रदेशो के नाम हिंदी व अंग्रेजी भाषा में।


24. पालघर जिला Palghar District

पालघर एक अगस्त 2014 को महाराष्ट्र का छत्तीस 36 वां जिला बना। जिले की पच्चास प्रतिशत से अधिक आबादी शहरी क्षेत्र में रहती हैं। मुम्बई का वेस्टर्न रेलवे नेटवर्क पालघर से जुड़ा हुआ है। भारत देश का पहला परमाणु ऊर्जा प्लांट इसी जिले में लगा हुआ है।


25. परभानी जिला Parbhani District

भारत के स्वतंत्रता सेनानियों की याद में परभानी शहर में एक शहीद स्मारक बनाया हुआ है। जैन धर्म की नेमगिरी की गुफाएं जिले के जिंतुर कस्बे में बनी हुई है। इसके अलावा यहां पर एक ऐतिहासिक प्राचीन मुद्गलेश्वर मंदिर भी बना हुआ हैं।


26. पुणे जिला Pune District

पुणे, भारत के महाराष्ट्र राज्य का एक शहर भी है व जिला भी है। पुणे डिस्ट्रिक्ट को देश का आईटी हब भी कहा जाता है। साथ ही रोचक तथ्य यह है की दुनियाभर से सबसे अधिक विदेशी छात्र पूना शहर में पढ़ने आते हैं। इसका पुराना नाम पूना सिटी था। आज भी यह इसी नाम से लोकप्रिय हैं।


27. रायगढ़ जिला Raigad District

रायगढ़ डिस्ट्रिक्ट का पुराना नाम कोलाबा (Colaba) जिला था। रायगढ़ मराठा साम्रज्य  की पहली राजधानी थी।  हिन्दू व बौद्ध धर्म की प्रसिद्ध एलिफेंटा की गुफाएं यही पर स्थित हैं।यहाँ की आधिकारिक भाषा मराठी हैं।

 

28. रत्नागिरी जिला Ratnagiri District

रत्नागिरी डिस्ट्रिक्ट में मौजूद सुवर्णदुर्ग का समुद्र के अंदर नजारा आपको मंत्रमुग्ध कर देंगा। यहाँ पर कुछ महान प्रसिद्ध हस्तियों का भी जन्म हुआ है जिनमें बाल गंगाधर लोकमान्य तिलक, क्रांतिकारी गोपाल कृष्ण गोखले दो मुख्य नाम हैं। राजनेताओं का मैं नाम नही लिखता चाहे xyz कोई भी हो।

 

29. सांगली जिला Sangli District

सगरेशवर वन्यजीव अभ्यारण पर्यावरण से प्यार करने वाले लोगो के लिए एक बेहतरीन स्थान है। यह सांगली डिस्ट्रिक्ट का बहुत अधिक लोकप्रिय पर्यटक स्थल है। वही यहाँ पर तीन सौ वर्ष पुराना वीरभद्र मंदिर भी बना हुआ है। इसी जिले से भारतीय महिला क्रिकेट टीम की दमदार खूबसूरत महिला बल्लेबाज स्मृति माधवना का जन्म भी हुआ है।

 

30. सतारा जिला Satara District

सतारा जिले की सैनिक स्कूल भारत की सबसे पुरानी आवासीय स्कूल हैं जहाँ पर लड़के राष्ट्रीय सुरक्षा अकादमी Upsc परीक्षा की तैयारी करते हैं। वेन्ना झील इस जिले की खूबसूरती में चार चांद लगा देती है।

 

31. सिंधुदुर्ग जिला Sindhudurg District

सिंधुदुर्ग डिस्ट्रिक्ट खनिज संपदा से भरा हुआ है जिसमें लौहा, बोक्साइट व मेगनीज शामिल हैं। कृषि में यहाँ पर चावल, नारियल, आम काजू की खेती की जाती हैं। यहाँ की अर्थव्यवस्था बैंकिंग सेक्टर पर निर्भर है। स्थानीय व्यजन में कोंबड़ी वड़े, पीठि प्रसिद्ध हैं। घूमने की जगहों में सिंधुदुर्ग का किला, अंबोली हिल स्टेशन, मंगेली जलप्रपात तथा 50 से अधिक मंदिर हैं।

 

32. सोलापुर जिला Solapur District

जनसंख्या की दृष्टि से सोलापुर भारत का 43 वा सबसे बड़ा जिला हैं। यहाँ का लिंगानुपात व साक्षरता का अनुपात काफी अच्छा है। कुछ प्रसिद्ध हस्तियों ने भी यहाँ पर जन्म लिया था जिनमें एम एफ हुसैन पेंटर, अभिनेत्री शशिकला, उधोगपति लालचंद हीराचन्द अनेकों नाम है। नंराज बस्टर्ड सेन्चुरी देखने लायक जगह है।

 

33. ठाणे जिला Thane District

ठाणे महाराष्ट्र राज्य का एक प्रसिद्ध जिला है। इस डिस्ट्रिक्ट से दो मुख्य नदिया उल्हास व वेतरन गुजरती हैं। यहाँ की बोली जाने वाली मुख्य भाषाओं में प्रथम स्थान पर मराठी दूसरे नम्बर पर हिंदी हैं। इंडस्ट्रीज में कृषि, कॉटेज, मैन्युफैक्चरिंग कार्य किया जाता हैं। यहाँ पर एक ऐतिहासिक दादोजी कोंडदेव स्पोर्ट्स स्टेडियम भी है।

 


34. वर्धा जिला Wardha District

भारत के स्वतंत्रता सेनानी व सामाजिक कार्यकर्ता विनोबा भावे का जन्म वर्धा जिले में ही हुआ है। नेशनल हाईवे 44 से जुड़ा हुआ है। इतिहास में मुगल शासकों ने व भारत के महान वंश ने यहाँ पर शासन किया था। हिंगणघाट, अरवि व वर्धा इस जिले के मुख्य शहर हैं।

 

35. वाशिम जिला Washim District

वाशिम जिला हाइवे व रेलवे लाइन से जुड़ा हुआ है। प्राचीन नाम इसका वत्सगुल्म था। विशेषकर यह जिला वाशिम सिटी, बालाजी टेंपल व कारंजा सोहोल वन्यजीव अभ्यारण्य के लिए प्रसिद्ध हैं।

 

36. यवतमाल जिला Yavatmal District

ये जिला पहले येतमल (Yeotmal) नाम से जाना जाता था। जिले में कुल सोलह तहसील हैं। यहाँ पर हिन्दू व बौद्ध धर्म की जनसंख्या अधिक है। यवतमाल का एक रोचक तथ्य यह भी है की यहाँ के सत्तर 70% से अधिक लोग मराठी बोलते हैं। वही राष्ट्रीय राजमार्ग 7 इसी जिले से होकर गुजरना हैं।

महाराष्ट्र राज्य में क्या प्रसिद्ध है

निम्नलिखित कारण जिसकी वजह से महराष्ट्र स्टेट फेमस है;

  • फिल्मनगरी, औद्योगिक नगरी और भारत का नम्बर एक शहर मुंबई के कारण।
  • नागपुर शहर सबसे विकसित शहरो की सूची में शामिल हो गया है।
  • पुणे सिटी को भारत की सिलिकॉन वैली कहते हैं।
  • सनातन हिन्दू धर्म के कुंभ मेले के आयोजन के लिए नाशिक शहर चर्चा में रहता है।


मुझे उम्मीद हैं, आपको महाराष्ट्र राज्य के सभी जिलों के बारे में दी गईं जानकारी काम आयेगी। सभी महाराष्ट्रवासियो व भारत के लोगो के साथ यह पोस्ट जरूर शेयर करें।

 

इन्हें भी पढ़ें [ Related Articles ]

दादर एंव नागर हवेली के सभी जिलों के नाम

चंडीगढ़ के सभी जिलों के नाम

अंडमान एंव निकोबार के सभी जिलों के नाम

तेलगांना के सभी जिलों के नाम

पश्चिम बंगाल के सभी जिलों के नाम

उत्तर प्रदेश के सभी जिलों के नाम

 उत्तराखंड के सभी जिलों के नाम

त्रिपुरा के सभी जिलों के नाम

तमिलनाडु के सभी जिलों के नाम

सिक्किम के सभी जिलों के नाम

पंजाब के सभी जिलों के नाम

उड़ीसा के सभी जिलों के नाम

नागालैंड के सभी जिलों के नाम

मिजोरम के सभी जिलों के नाम

मेघालय के सभी जिलों के नाम

मणिपुर के सभी जिलों के नाम

मध्यप्रदेश राज्य के सभी जिलों के नाम

झारखंड के सभी जिलों के नाम

जम्मू एंव कश्मीर के सभी जिलों के नाम

हिमाचल प्रदेश के सभी जिलों के नाम

गुजरात के सभी जिलों के नाम

छत्तीसगढ़ के सभी जिलों के नाम

राजस्थान के सभी जिलों के नाम

अरुणाचल प्रदेश  के सभी जिलों के नाम

आंध्र प्रदेश के सभी जिलों के नाम

 बिहार के सभी जिलों के नाम

गोआ गोवा में कितने जिले है

असम के सभी जिलों के नाम

 कर्नाटक के सभी जिलों के नाम

केरल के सभी जिलों के नाम

हरियाणा के सभी जिलों के नाम

Leave a Comment